News ( समाचार )

Digital froud डिजिटल पेमेंट एप्लीकेशन यूज करने वाले करोड़ों कस्टमर के पढ़ ले जयपुर की खबर और भूल के भी ना करें ये गलती

डिजिटल पेमेंट एप्लीकेशन यूज करने वाले करोड़ों कस्टमर के पढ़ ले जयपुर की खबर और भूल के भी ना करें ये गलती

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप जॉइन करने के लिए यहाँ क्लिक करें ।

https://chat.whatsapp.com/Gjy1NWmAcezHj0HAM1J8ko

यपुर (jaipur News). पेटीएम नंबर पर फ्रॉड हो जाने के बाद एक कस्टमर ने गूगल से कस्टमर केयर का नंबर लेकर बात की और खुद की समस्या का समाधान मांगा। पता चला कि कस्टमर केयर पर जिस नंबर पर वह बात कर रहा है वह कस्टमर केयर का नहीं होकर ठग का नंबर है।

उसने एक एक कर चार से पांच बार में खाते से लाखों रुपए निकाल लिए। उधर ठग फोन पर बात करता रहा, इधर खाते से रूपए निकलने के मैसेज आते रहे। लेकिन फोन पर बात जारी होने के कारण पीडित ये मैसेज नहीं देख सका। बाद में जब मैसेज आए तो सबसे पहले बैंक भागा और फिर थाने दौड़ा। मानसरोवर पुलिस ने ठगी समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज कर लिया है।

जयपुर के युवक से हुआ गलत डिजिटल ट्रांजेक्शन

पुलिस ने बताया कि पच्चीस साल के भारत अरोड़ा के साथ फ्रॉड हुआ। युवक के पेटीएम नंबर से कुछ गलत ट्रांजेक्शन हो गया। इसे सही कराने के लिए उसने गूगल पर जाकर पेटीएम कस्टमर केयर नंबर सर्च किया। सर्च पेज के टॉप पर जिसका नंबर आया उसे कॉल किया। उसने कॉल उठाया और खुद को पेटीएम कंपनी का कर्मचारी बताया। उसने भारत अरोड़ा को आश्वस्त किया कि जो गलत ट्रांजेक्शन हुआ है वह सही करा दिया जाएगा। भारत अरोड़ा उसकी बातों में आ गया और जैसा उसने कहा वैसी जानकारी फोन करने वाले को उपलब्ध कराता रहा। आरोपी ठग ने भारत अरोड़ा को एक एप्लीकेशन डाउनलोड करने के लिए कहा। भारत ने वह डाउनलोड कर ली।

ठग की बातों में फसकर युवक ने 2 मिनट की में गवांए 12लाख रु.

भारत ने पुलिस को बताया कि आरोपी ने उसके बैंक खाते से 14 हजार रु., 9 लाख 50 हजार रुप. और 95 हजार 280 रूपए के अलावा पांच पांच लाख रुपए की दो एफडी भी तोड़ ली और खुद के खातों में ट्रांसफर करता चला गया। भारत ने पुलिस को बताया कि फोन नंबर पर बात जारी थी और इस दौरान मैसेज आ रहे थे। उसे लगा कि कोई और मैसेज कर रहा है इस कारण ये मैसेज वह फोन पर बात करने के दौरान देख नहीं सका। बाद में जब खाता खाली हो गया तब जाकर उसने मैसेज देखे तो उसकी हालत खराब हो गई। पुलिस को इसकी जानकारी दी गई है। पुलिस के पास कुछ बंद मोबाइल नंबरों के अलावा जाचं के लिए और कुछ नहीं है।

Back to top button
%d bloggers like this: